राहुल ने जहां-जहां जीएसटी और नोटबंदी की बुराई की वहां कांग्रेस चुनाव हारी गई: रविशंकर प्रसाद

राजस्थान के चुनावी समर में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी लगातार अपनी चुनावी सभाओं में राष्ट्रीय मुद्दे खासतौर पर जीएसटी और नोटबंदी का जिक्र कर आम जनता में मोदी सरकार की छवि बिगाड़ने का प्रयास कर रहे हैं. वहीं भाजपा ने कहा है कि जहां भी राहुल गांधी ने जीएसटी और नोटबंदी पर सवाल उठाए उसी प्रदेश में कांग्रेस को हार का मुंह देखना पड़ा. जयपुर प्रवास पर आए केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद के अनुसार गुजरात और उत्तर प्रदेश इसका ताजा उदाहरण है.

रविशंकर प्रसाद के अनुसार उत्तर प्रदेश और गुजरात विधानसभा चुनाव में राहुल गांधी ने जितने भी चुनावी सभाएं की वहां नोटबंदी और जीएसटी को लगातार कोसा, लेकिन उसका असर यह हुआ कि भाजपा को वहां जीत हासिल हुई कांग्रेस की झोली में हार गई. केंद्रीय विधि मंत्री के अनुसार राजस्थान चुनाव में भी राहुल गांधी जीएसटी को गब्बर सिंह टैक्स बता रहे हैं. नोटबंदी से हुई परेशानी का जिक्र कर मतदाताओं को भ्रमित कर रहे हैं लेकिन नोटबंदी इस देश को ईमानदार बनाने की एक पहल थी जिसे मोदी सरकार ने किया.
रविशंकर प्रसाद ने मीडिया से रूबरू होते हुए बकायदा आंकड़े भी गिनाए. उन्होंने कहा कि साल 2013-14 में जहां देश में 3 करोड़ 82 लाख आयकर दाता थे वह संख्या साल 2017- 18 में 6 करोड़ 86 लाख हो गई है. यानी 3 करोड़ से भी ज्यादा आयकर दाता इस दरमियान बढ़ गए. उनके अनुसार साल 2013 14 में जहां आयकर के जरिए सरकारी कोष में 6 लाख 38 हजार करोड़ रुपए सालाना आय थी, वो आज 10 लाख 2 हजार करोड़ सालाना हो चुके हैं.  यह सब नोटबंदी के कारण ही संभव हुआ रविशंकर के अनुसार जीएसटी से 1 करोड़ 10 लाख व्यापारी जुड़े जिन में 49 लाख नए व्यापारी शामिल है जो कि मोदी सरकार की देश को ईमानदार बनाने की पहल में उसके साथ है.
source: http://hindi.eenaduindia.com/assembly-elections-2018/rajasthan-elections/2018/11/28195116/election-Rahul-ghandhi-GST-Ravi-Shankar.vpf

Related Posts